बिहार पंचायत चुनाव परिणाम , जाने कौन हारा कौन जीता

बिहार पंचायत चुनाव के लिए मतदान प्रारंभ हो गया है और चुनाव आयोग ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है। कड़ी सुरक्षा के बीच वोटों की गिनती होना शुरु की गई । बिहार पंचायत चुनाव परिणाम 2021 राज्य चुनाव आयोग द्वारा जारी किया गया। प्रदेश में अलग-अलग चरणों में पंचायत चुनाव हो रहे हैं।

चरण 8 के लिए बिहार पंचायत चुनाव परिणाम 26 और 27 नवंबर 2021 को घोषित की गई थी। जहां-जहां पंचायत चुनाव संपन्न हो चुके हैं, वहां परिणाम ऑनलाइन प्रकाशित किया जा रहा है। बिहार में पंचायत चुनाव 11 चरणों में संपन्न हुए हैं, जिनमें से कुछ चरण पूरे हो चुके हैं. पहले चरण का चुनाव 26 सितंबर 2021 से शुरू किया गया था और अंतिम चरण का चुनाव दिसंबर के अंत तक पूरा हो जाएगा ।

बिहार में 11 चरणों में होने वाले पंचायत चुनाव के चौथे चरण की मतगणना जारी है. इस चरण में जिला परिषद सदस्य, मुखिया, पंचायत समिति सदस्य, वार्ड सदस्य, सरपंच और पंच पदों के लिए उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा.

बिहार पंचायत चुनाव के नतीजे में किशनगंज प्रखंड की बेलवा पंचायत से पहली बार तैबुर रहमान जीते. पहली बार किशनगंज की गचपारा पंचायत से मतिउर रहमान ने जीता प्रधान पद। पूर्णिया जिला परिषद क्षेत्र संख्या 8 से अशोक कुमार हसदा विजयी घोषित हुए। मुंगेर के असरगंज की अमैया पंचायत में हसिया देवी ने रेखा देवी को हराया, जबकि बाबी देवी ने जीत हासिल की चौरगांव पंचायत। गुरिया देवी पटना के राजीपुर से मुखिया बनीं।

बिहार पंचायत चुनाव 2021 के नौवें चरण की मतगणना में लगातार नतीजे सामने आए हैं। सोमवार को राज्य के 35 जिलों में 53 प्रखंडों की 875 पंचायतों में 12,341 बूथों पर वोटिंग हुई थी। इस काउंटिंग में पंचायत चुनाव में कूदे 97,878 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला जनता ने सुना दिया है। राज्य के सभी मतगणना केंद्रों पर सुबह सात बजे से ही प्रत्याशियों और उनके समर्थकों की भीड़ देखने को मिली।

महिलाएं ज्यादा विजेता हुई –

जिले में पंचायत चुनाव में आधी आबादी की भागीदारी बढ़ रही है। बड़ी संख्या में महिलाएं पंचायत चुनाव जीतकर जनप्रतिनिधि बन रही हैं। नौवें चरण में सदर प्रखंड के आए चुनाव परिणाम में भी आधी आबादी ने बाजी मारी है। सबसे बड़ी बात यह है कि अब तक के चुनाव परिणामों में जिले की सबसे कम उम्र की मुखिया महिला ही चुनी गई हैं

Leave a Reply