विराट कोहली का जीवन परिचय और रिकार्ड्स 

विराट क्रिकेट की दुनिया के ऐसे खिलाड़ी है जिसे हर कोई जानता है यह एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर है यह दाये हाथ से खेलने वाले सबसे होनहार क्रिकेटरों मे से एक है. वर्तमान मे यह भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान है, इनका क्रिकेट के प्रति बचपन से रुझाव था, जिसको देख कर इनके पिता ने इनको सही मार्गदर्शन दिया और आगे बढ़ाया, जिससे आज ये इस मुकाम पर पहुचे. क्रिकेट मे दिये गये इनके योगदान के लिये इनको 2017 मे पद्मश्री अवार्ड से समानित किया गया

नाम
विराट कोहली
 अन्य नाम चीकू, रन मशीन
नाम का मतलब बहुत बड़ा
अलंकृत नाम विरुष्का
जन्म तारीख5 नवम्बर 1988
जन्म स्थानदिल्ली, इंडिया
राशि वृश्चिक
उम्र 30 साल
पता डीएलएफ सिटी फेस-1, ब्लाक-सी गुडगाँव
स्कूल विशाल भारती पब्लिक स्कूल, दिल्ली सेविअर कॉन्वेंट सीनीयर सेकेंडरी स्कूल,पश्चिम विहार, दिल्ली
कॉलेज
शिक्षा बारहवी
कुल सम्पति40 मिलियन(लगभग)
भाषाहिंदी , इंग्लिश
नागरिकताइंडियन
धर्महिन्दू
जातिखत्री
खास दोस्त क्रिस गेल, एबी डे विलिएर्स, रोहित शर्मा
मुख्य टीम इंडिया
दिलचस्पी वर्कआउट, घूमना, डांसिंग
बुरी आदत ड्रिंकिंग
कोच राज कुमार शर्मा
बेटिंग स्टाइल राईट-हैण्ड बेट्समेन
आयु 31
जाति पंजाबी

विराट कोहली का जन्म और पारिवार की जानकारी

इनका जन्म पांच नवम्बर उन्नीस सौ अठासी को दिल्ली मे हुआ. यह जिस परिवार मे जन्मे थे, वह एक पंजाबी परिवार है इनके पिता का नाम प्रेम कोहली है, यह एक क्रिमिनल एडवोकेट है. इनकी माता का नाम सरोज कोहली है, यह बहुत साधारण और सीधी सी ग्रहिणी है. इनके परिवार में इनसे बड़े एक भाई और एक बहन भी है. इसके अलावा इनके घर मे तीन बच्चे है एक बड़े भाई का बेटा तथा अपनी बड़ी बहन के दो बच्चे एक बेटा और एक बेटी भी शामिल है.

पारिवारिक जानकारी – 

 इनके परिवार की जानकारी नीचे टेबल में संक्षिप्त में बताई गई है :


पिता का नाम
प्रेम कोहली
माता का नामसरोज कोहली
भाई एक भाई –  विकास कोहली
  
भाभीचेतना कोहली
भतीजाआर्य कोहली
बहन एक बहन – भावना कोहली
 
जीजाजी संजय धींगरा
भांजा आयुष धींगरा
भांजी महक धींगरा
मेरिटल स्टेट्स मेरिड
पत्नी अनुष्का शर्मा कोहली

विराट कोहली की शिक्षा तथा निजी जानकारी

इनकी प्रारम्भिक शिक्षा विशाल भारती पब्लिक स्कूल, दिल्ली से हुई थी. इनका विशेष ध्यान क्रिकेट पर था, जिसके चलते मात्र आठ-नौ साल की उम्र मे इनके पिता ने इनको क्रिकेट क्लब मे दाखिला दिला दिया, जिससे यह सही तरीके से क्रिकेट सीख सके.

जिस स्कूल मे इनकी प्रारम्भिक शिक्षा चल रही थी, वहा सिर्फ और सिर्फ शिक्षा पर ध्यान दिया जाता था, खेल का प्रशिक्षण नही दिया जाता था. तब इनके पिता ने इनकी स्कूल बदलने की सोची तथा ऐसी स्कूल मे दाखिला दिलाया जहा पर शिक्षा तथा खेल दोनों पर ध्यान दिया जाता है व कक्षा नवी से इनको सेविअर कॉन्वेंट सीनीयर सेकेंडरी स्कूल,पश्चिम विहार, दिल्ली मे दाखिला दिला दिया.

विराट कोहली का करियर

प्रारंभिक करियर – 

विराट क्रिकेट की दुनिया के बहुत ही बड़े खिलाड़ी साबित हुये है. यह एक मिडिल ऑर्डर बेट्समेन है, जिससे यह आराम से बेटिंग कर पाते है इसी के साथ यह राईट आर्म्स के बोलर भी है. सन् दो हजार दो मे इन्होंने अंडर फिफ्टीन खेला था.

इसके बाद सन् दो हजार चार मे अंडर सेवेनटीन मे इनका चयन हुआ, दिनों दिन इनके खेल के तरीके मे हुए बदलाव से सन् दो हजार छ: मे फर्स्ट क्लास डिबेट के लिये खेले तथा दो हजार आठ मे, यह अंडर नाइनटीन के लिये चुने गये.


यहाँ से इनके करियर ने एक अलग मोड ले लिया था.
इसके बाद इनका प्रदर्शन देखकर इनका चयन वन डे इंटरनेशनल के लिए हुआ. इन्होंने यह मैच मात्र उन्नीस साल की उम्र मे श्रीलंका के खिलाफ खेला. यह उनके लिये बड़ी गर्व की बात थी कि इतनी जल्दी उनके एक के बाद मैच मे सिलेक्शन होते गये तथा सन् दो हजार ग्यारह मे वर्ल्ड कप खेलने का मौका मिला तथा उसमे भी इंडिया की जीत हुई

. इसी के साथ सन् दो हजार ग्यारह मे इन्होंने टेस्ट मैच खेलना शुरू किये और टेस्ट मैच मे अपना बेहतरीन प्रदर्शन दिया. सन् दो हजार तेरह मे इन्होंने ओडीआई मे शतक बना कर खुद को साबित कर दिखाया. इनके बाद टवेंटी-टवेंटी मैच खेल कर उसमे भी लगातार सफल हुए तथा सन् दो हजार चौदह तथा सोलह मे दो बार मेंन ऑफ द मैच का ख़िताब जीता. इसी के साथ इन्होंने वर्ष चौदह से सत्रह तक लगातार एक सामान खेल कर भारत की जीत दर्ज कराई, इतने उम्दा प्रदर्शन के बाद इनकी गिनती सबसे अच्छे बल्लेबाजों मे होने लगी.

वन डे इंटरनेशनल(ओडीआई) करियर

इनके ओडीआई के मैच से संबंधित जानकारियाँ इस प्रकार है-

  • सन् दो हजार ग्यारह मे टेस्ट मैच मे जगह बनाने के बाद ओडीआई मे छठवे स्थान पर बेटिंग कर शुरू की तथा लगातार दो मैच हार गये लेकिन उसके बाद के मैच में इन्होंने एक सौ सोलह रन की शतक बनाई. यह वह मैच तो भारत को नही जीता पाये, पर शतक बनाने वाले एक मात्र भारतीय क्रिकेटर बने.
  • इसके बाद कॉमनवेल्थ बैंक ट्राएंगुलर सीरीज़ मे ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका के खिलाफ सात मैच मे से दो मे जीत हासिल की, एक मैच टाय हो गया तथा चार मैच इंडिया हार गई. पर यहा फाइनल मे क्वालीफाई करने के एक और मैच जों कि श्रीलंका के खिलाफ खेल कर बोनस हासिल करना था, उसमे तीन सौ इक्कीस रन का टारगेट था, जिसमे से एक सौ तैतीस रन इन्होंने बना कर भारत की जीत दर्ज कराई तथा मैन ऑफ दी मैच का ख़िताब जीता. इस मैच मे मजेदार बात यह थी कि लाथिस मलिंगा जैसे खिलाड़ी ने एक ओवर मे चौबीस रन बनाये पर इनकी टीम जीत हासिल नही कर पाई.

इंडियन प्रिमीयर लीग (आईपीएल) मे करियर

  • इन्होंने आईपीएल खेलने की शुरुवात सन् दो हजार आठ मे की थी. तब इनको राँयल चेलेंजर्स, बैंगलोर (आरसीबी) की टीम के लिये बीस लाख रूपये मे ख़रीदा गया था. इन्होंने तब तेरह मैचों मे एक सौ पैसठ रन बनाये थे तथा मात्र पंद्रह का एवरेज था.
  • सन् दो हजार नौ मे इन्होंने इनकी टीम को फाइनल तक पहुचाया, तब अनिल कुंबले ने इनके खेल की सरहना करी.यहाँ तक पहुच जाने के बाद भी अभी तक इंडियन टीम मे इनका नाम पर्मनेनट नही हुआ था.
  • सन् दो हजार दस-ग्यारह मे भी इन्होंने बहुत मेहनत की पर यह असफल रहे इनकी पहचान अभी तक बनी नहीं थी.
  • सन् दो हजार बारह मे इनको लगा कि यदि खुद को सर्वश्रेष्ठ साबित करना है, तो कुछ करना होगा यह इनके करियर का टर्निंग पॉइंट था, इनके बाद से इनके खेल मे और बदलाव आया. आखिरकार दो हजार तेरह मे इन्होंने कर दिखाया और सोलह मैचों मे 635 रन तथा पैतालीस के एवरेज से खेला.

विराट कोहली ब्रांड अम्बेसिटर लिस्ट 

 यह क्रिकेटर होने के साथ कई कंपनीज के ब्रांड एम्बेसिटर भी है जिसकी लिस्ट निम्न है –

  • वाल्वोलाइन
  • फिलिप्स इंडिया
  • रेमिट 2 इंडिया
  • उबर इंडिया
  • विक्स इंडिया
  • एमआरएफ टायर्स
  • बूस्ट एनर्जी ड्रिंक
  • अमेरिकन टूरिस्टर
  • रायल चेलेंजर एल्कोहल
  • मान्यवर
  • आडी इंडिया
  • टीससोट
  • टू यम्म
  • पुमा

इसके अलावा भी ओर भी कई कम्पनीयों मे पार्टनर है.

विराट कोहली को मिलने वाले अवार्ड की लिस्ट

विराट ने बहुत ही कम उम्र में बहुत अच्छा प्रदर्शन कर अपार सफलता हासिल की है. इन्होंने अपने मैचों में कई रिकार्ड्स बनाकर अपना व अपने परिवार का नाम रोशन किया है. इन्हें खेल में इनके उम्दा प्रदर्शन के चलतें कई अवार्ड्स से सम्मानित किया गया है, उन्हीं में से कुछ इस प्रकार है.

1.2012पीपुल चॉइस अवार्ड फॉर फेवरेट क्रिकेटर
2.2012आईसीसी ओडीआई प्लयेर ऑफ दी इयर अवार्ड
3.2013अर्जुन अवार्ड फॉर क्रिकेट
4.2017सीएनएन-आईबीएन इंडियन ऑफ दी इयर
5.2017पद्मश्री अवार्ड
6.2018सर गर्फिएल्ड सोबर्स ट्राफी

विराट कोहली के जीवन की दिलचस्प बाते 

इनके जीवन की बहुत अच्छी और दिलचस्प बातें है जिसमे इनके जीवन के कई तथ्य जुड़े है जैसे-

  • सन् 2006 मे जब गंभीर बीमारी से इनके पिता की मृत्यु हुई थी, तब इन्होंने सब भूल कर रनजी सीरीज मे कर्नाटक के खिलाफ मैच खेलने का फैसला लिया, जों इनके लिये बहुत मुश्किल था. इसमें इन्होंने अपनी टीम के लिये 90 रन बनाये.
  • पूरे वर्ल्ड मे मात्र आठ क्रिकेटरों ने 20 ओडीआई मे शतक बनाई है उन आठ मे यह भी आते है. यह 20 ओडीआई मे शतक लगाने वाले सबसे तेज क्रिकेटर है इनके पहले सचिन तेंदुलकर का नाम था.
  • ये सचिन, सौरव और एमएस धोनी के बाद ओडीआई मे तीन साल मे लगातार एक हजार रन से अधिक बनाने वाले चौथे क्रिकेटर बने.
  • यह 1000, 3000, 4000 तथा 5000 रन का रिकार्ड बनाने वाले सबसे तेज भारतीय क्रिकेटर है. इसी के साथ ये रिचर्ड के साथ साझा करते हुए 5000 रन बनाने वाले सबसे तेज इंटरनेशनल क्रिकेटरों मे से एक है.


 




 



Leave a Reply