Budget 2022 : बजट 2022 हुआ जारी , जाने क्या हुए बदलाव। चप्पल जूतों के साथ ये चीजें हुई सस्ती जानिए बजट के पहले और बाद की सारी जानकारी

Union Budget 2022 वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा 1 फरवरी 2022 को बजट पेश हुआ। वित्त वर्ष 2022-23 के लिए केंद्रीय बजट पेश किया गया। हर साल की तरह इस साल भी मिडिल क्लास, किसानों और गरीबों को बजट से काफी उम्मीदें।

इसके अलावा कोरोना की वजह से बिगड़ी अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए भी कई बड़े ऐलान हुए।इस साल के बजट से सभी सेक्टर की कुछ खास उम्मीदें हैं, लेकिन अब देखना ये होगा कि वित्तमंत्री के पिटारे से क्या निकलता है और कौन से सेक्टर को कितनी राहत मिलेगी. आइए आपको 1 फरवरी से पहले बजट से जुड़े कुछ लेटेस्ट अपडेट के बारे में बता देते हैं।

यह चौथी बार है कि सीतारमण केंद्रीय बजट पेश किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी संसद पहुंच चुके हैं, उन्होंने आज कैबिनेट की बैठक की अध्यक्षता भी की, जहां केंद्रीय बजट 2022 को मंजूरी दी गई।वित्त मंत्रालय ने पहले अधिसूचित किया था कि इस साल बजट लगातार दूसरी बार पेपरलेस होने जा रहा है। केंद्रीय बजट 2022-23 भी 1 फरवरी, 2022 को संसद में केंद्रीय बजट प्रस्तुति की प्रक्रिया पूरी होने के बाद मोबाइल ऐप पर उपलब्ध होगा। संसद पहुंचने से पहले, वित्त मंत्री ने बजट दस्तावेज़ों वाले अपने टैब के साथ पोज़ दिया।

कहां देख सकते हैं लाइव बजट

अगर आप लाइव बजट देखना चाहते हैं तो आप संसद टीवी पर देख सकते हैं।इसके अलावा ज्यादातर सभी प्राइवेट न्यूज चैनल पर भी इसको चलाया जाता है।आप डीडी न्यूज पर भी बजट स्पीच सुन सकते हैं।

रामनाथ कोविंद के भाषण से शुरू हुआ बजट सत्र

बजट सत्र की शुरुआत आज राष्ट्रपति के भाषण के साथ हो गई है।31 जनवरी को रामनाथ कोविंद ने दोनों सदनों को संबोधित किया इसके अलावा वित्तमंत्री ने इकोनॉमिक सर्वे पेश किया।

कब तक चलेगा बजट सत्र

बजट सत्र की बात करें इसको 2 भागों में बांटा गया है। बजट का पहला सत्र 11 फरवरी को समाप्त हो जाएगा। वहीं, दूसरे सत्र की बात करें तो यह 14 मार्च को शुरू होकर 8 अप्रैल को खत्म होगा।

आज पेश हुआ इकोनॉमिक सर्वे

लोकसभा में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए इकोनॉमिक सर्वे को पेश कर दिया है। इस सर्वे में आने वाले वित्त वर्ष 2022-23 में भारतीय अर्थव्यवस्था के 8 से 8.5 फीसदी के दर से विकास करने का अनुमान जताया है। वहीं सर्वे में मौजूदा वित्त वर्ष 2021-22 में देश का जीडीपी 9.2 फीसदी रहने का अनुमान जताया है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2022-23 पेश किया

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने आज देश का आम बजट पेश किया है। बजट में टैक्स स्लैब में कोई बदलाव नहीं किया गया है, जिससे मिडिल क्लास जरूर मायूस होंगे।इसके अलावा क्रिप्टोकरंसी से होने वाली इनकम पर 30 फीसदी टैक्स लगा दिया गया है।सीतारमण ने कहा कि इस बजट से अगले 25 सालों की बुनियाद रखी जाएगी। इस बजट में 16 लाख नौकरियां देने का वादा किया गया है। Budget 2022 में निर्मला सीतारमण ने क्या-क्या ऐलान किए यहां जानिए।

टैक्सपेयर्स के ल‍िए अच्‍छी शुरुआत होगी

व‍ित्‍त मंत्री की तरफ से की गई घोषणा के बाद अब जुर्माना भरकर 2 साल पिछला आईटी रिटर्न्स अपडेट कर सकेंगे। कई बार टैक्‍सपेयर से गलती हो जाती है, अब सरकार की तरफ से इसे अपडेट करने का मौका भी म‍िलेगा। यह टैक्सपेयर्स के ल‍िए अच्‍छी शुरुआत मानी जा रही है।इसके अलावा व‍ित्‍त मंत्री ने दिव्यांगों के लिए टैक्स में राहत का भी प्रस्ताव पेश क‍िया।इससे पहले व‍ित्‍त मंत्री ने र‍िजर्व बैंक ऑफ इंड‍िया की तरफ से ड‍िज‍िटल करेंसी लाने की भी घोषणा की।उन्‍होंने बताया क‍ि नए व‍ित्‍त वर्ष में ड‍िज‍िटल करेंसी आएगी।

इसके अलावा भी वित्त मंत्री सीतारमण ने कई चीजों के ऐलान होती है जो कि निम्नलिखित है।

  • राज्य कर्मचारियों के लिए NPS में छूट केंद्र के बराबर
  • स्टार्टअप के लिए टैक्स छूट 31 मार्च 2023 तक बढ़ी
  • स्टार्टअप के लिए टैक्स छूट 31 मार्च 2023 तक बढ़ी
  • वर्चुअल डिजिटल एसेट ट्रांसफर पर 30% टैक्स
  • क्रिप्टो गिफ्ट करने पर भी लगेगा टैक्स
  • क्रिप्टो के ट्रांसफर पर भी टैक्स
  • LTCG पर सरचार्ज को 15% तक सीमित किया जाएगा
  • कॉपोरेटिव टैक्स घटा 18% से 15% हुआ
  • इस पर लगने वाला सरचार्ज भी कम किया गया 12% से 7% किया गया
  • कॉपोरेटिव टैक्स की सीमा बढ़ाकर 10 करोड़ रुपए हुई
  • ITR में गड़बड़ सुधारने को दो साल का वक्त मिलेगा।
  • पेंशन में भी टैक्स पर छूट
  • क्रिप्टो करेंसी से होने वाली आय पर 30 फीसदी कर

ये सामान हुए महंगे

सभी इंपोर्टेड सामान और छातों पर ड्यूटी को बढ़ाकर 20 फीसदी कर दिया गया है।

ये चीजें सस्ती हुईं

कपड़े, चमड़े का सामान, मोबाइल, फोन चार्जर, जूते, रत्न पत्थर और हीरे के गहने, आर्टिफीशियल जूलरी, पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स के लिए जरूरी रसायनों पर कस्टम ड्यूटी, स्टील स्क्रैप पर कन्सेश्नल कस्टम ड्यूटी एक साल के लिए बढ़ी। मेथनॉल के साथ कुछ रसायनों पर कस्टम ड्यूटी।

5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी अगले वित्त वर्ष में होंगे

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि निजी कंपनियों द्वारा 5जी मोबाइल सेवाओं की शुरुआत के लिए स्पेक्ट्रम की नीलामी अगले वित्त वर्ष 2022-23 में की जाएगी। सीतारमण ने वर्ष 2022-23 का बजट पेश करते हुए कहा कि कंपनियों के लिए स्वैच्छिक निकासी की समयावधि को दो साल से घटाकर छह महीने किया जाएगा।उन्होंने अपने बजट भाषण में कहा कि आपूर्तिकर्ताओं की अप्रत्यक्ष लागत कम करने के लिए गारंटी बांड देने की व्यवस्था को भी लागू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्वदेशी रेल सुरक्षा एवं क्षमता प्रौद्योगिकी ‘कवच’ के तहत करीब 2,000 किलोमीटर लंबे रेल नेटवर्क को लाया जाएगा। इसके अलावा अगले तीन वर्षों में ‘वंदे-भारत’ श्रेणी की 400 नई ट्रेनों का भी विनिर्माण किया जाएगा।

Leave a Reply