Dr Michiaki Takahashi: Why Google honours him on February 17  

Hello friends . Welcome to new blog. Here you will learn about the great vaccine hero Dr Michiaki Takahashi’s biography, takahashi net worth, dr michiaki in hindi. This blog will explain about Dr Michiaki TakahashiGreat vaccine man.

Google doodle celebrates Dr. Michiaki Takahashi

Dr. Michiaki Takahashi was a Japanese virologist, best known for inventing the first chickenpox vaccine. He developed the “Oka” vaccine by producing v-Oka, a live-attenuated virus strain of varicella zoster virus. 

Dr. Michiaki Takahashi Biography


BornFebruary 17, 1928
Yuzato, Higashisumiyoshi-ku, Osaka, Japan
DiedDecember 16, 2013(aged 85)
Suita, Osaka Prefecture, Japan
EducationOsaka UniversityBaylor College of MedicineTemple University
OccupationVirologist
Medical career
FieldMedicine
InstitutionsResearch Institute for Microbial Diseases, Osaka University
Sub-specialtiesVirology
ResearchChickenpox
Notable worksVaricella vaccine
Dr. Michiaki Takahashi brief details

Dr. Michiyaki Takahashi’s invention of the chicken pox vaccine in life is a great boon to the whole world. He has achieved this success by working hard for five consecutive years.

Today Google has wished Happy Birthday by putting doodles in the best way. Today in this article we will discuss the story of their struggle. Also learn how he invented this vaccine for the world.

Dr Michiaki Takahashi Net Worth

How much is Dr Michiaki Takahashi’s net worth?  Dr. Michiaki Takahashi had a modest existence. He lived in a little home with his children. Michiaki never flaunted his way of life. He used to spend a lot of time studying and inventing medications. His job as a scientist provided him with a steady salary. According to estimates, he would have had a net worth of USD 800-900,000 at the time

When did dr. Michiyaki born

Vaccine heroes- Michiyaki Takahashi’s

This great scientist Dr. Michiyaki Takahashi was born on on February 17, 1928, in Higashisumyoshi-ku (Osaka), Japan. Michiyaki Takahashi is a Japanese scientist who invented the chicken pox vaccine for the world.

Michiyaki Takahashi’s early studies took place in Osaka, then after completing his MD from Osaka University in 1954, he completed his graduate in Medical Science in 1959.

After this, after studying measles and polio virus, Michiyaki Takahashi engaged in a research work at Baylor College in America, during which time his son got chicken pox. After which Dr. Michiyaki Takahashi came to Japan from America and started research work to make a vaccine for chicken pox.

When did Michieki Takahashi make the vaccine for chicken pox?

Chicken pox vaccine

When Dr. Michiyaki Takahashi was engaged in research work in fellowship in 1963, during this time his son got chicken pox and Dr. Michiyaki Takahashi left America and came to Japan in 1965 and found the chicken pox virus in the living tissues of animals. And in 1974 Dr. Michiyaki Takahashi almost made Tika. In this way, this vaccine was administered to millions of children in more than 80 countries of the world.

Dr Michieki Takahashi in hindi

डॉ मिचियाकी ताकाहाशी जिन्होंने खोजा इस संक्रामक बिमारी का टिका

chicken pox

1965 में मिचियाकी ताकाहाशी ने चिकनपॉक्स के वायरस पर अपना शोध शुरू किया, मिचियाकी ताकाहाशी ने रोग के वायरस की पहचान कर इसके लिए एक टिका विकसित किया, पांच साल की कठिन मेहनत के बाद उनके द्वारा बनाया गया टिका परिक्षण के लिए तैयार था।

1972 में उनके द्वारा बनाये गए टिके के सभी परिक्षण को पूरा किया गया और इसके कुछ सालों बाद यह वैक्सीन लोगो को चिकनपॉक्स जैसी संक्रामक बीमारी से बचाने का हथियार बनी।

1986 में विश्व स्वास्थ्य संगठन के द्वारा चिकनपॉक्स बिमारी के एकमात्र वैरिकाला टिके को स्वीकृति मिलने के बाद ओसाका विश्वविद्यालय के माइक्रोबियल रोगों के लिए रिसर्च फाउंडेशन ने जापान में इसका रोलआउट शुरू किया।

मिचियाकी ताकाहाशी का करियर 

अपनी डिग्री हासिल करने के बाद साल 1959 में ओसाका विश्वविद्यालय के माइक्रोबियल रोग अनुसंधान संस्थान में एक शोधकर्ता के रूप में काम करने का मौका मिला। 

वह पर खसरा और पोलियोवायरस जैसी बीमारियों के बारे में अध्ययन करने के बाद, डॉ ताकाहाशी ने 1963 में बायलर कॉलेज में एक शोध फेलोशिप की नौकरी स्वीकार की। 

कैसे शुरुआत हुई चिकनपॉक्स के टीके की 

एक बार जब मिचियाकी ताकाहाशी एक लड़की जो उनके लड़के के साथ खेला करती थी उसके सिर पर चेचक का छाला देखा और उसको देख कर उन्होंने सोचा कि उस लड़की की वजह से यह बीमारी उनके बेटे को भी हो सकती है है। उस समय, लक्षण गंभीर थे, और चेचक के लिए कोई प्रभावी उपचार नहीं था।

कुछ दिनों के बाद उनके बेटे के चेहरे पर चकत्ते हो गए, जो उनके पूरे शरीर में तेजी से फैल गए, जैसा कि उन्हें संदेह था। जब उसका बेटा बीमार था, तब उसकी और उसकी पत्नी की रातों की नींद उड़ी हुई थी।

तब उन्होंने महसूस किया कि उन्हें चिकनपॉक्स का टीका बनाने के लिए अपने वायरस ज्ञान का उपयोग करना चाहिए। वह उस समय अपने शुरुआती तीसवें दशक में थे और उन्होंने अपने करियर का अधिकांश समय खसरा और पोलियो वायरस पर शोध करने में बिताया था।

मिचियाकी ताकाहाशी द्वारा चिकनपॉक्स के टीके को विकसित करना 

इस समय के दौरान, उनके बेटे ने चिकनपॉक्स नाम की बीमारी ने में ले लिया , अपने बेटे को ऐसी हालत में देखते हुए उन्होंने इस बीमारी का इलाज खोज निकालने का अपने आप से वादा किया। करीब 5 साल के कठिन परिश्रम के बाद उनका टीकाकरण अपने शुरुआती दौर के ​​परीक्षणों के लिए तैयार था।

मिचियाकी ताकाहाशी की मृत्यु 

मिचियाकी ताकाहाशी का 16 दिसंबर 2013 को हृदय गति रुकने से निधन हो गया।

Leave a Reply