Google Pixel Buds Pro नहीं होगा भारत में लॉन्च। जानीए है क्या है कारण?

Google Pixel Buds Pro तो आपने सुना ही होगा। जी हां कल ही लांच हुआ सबसे प्रीमियम वॉयरलैस इयरबड्स। आखिर क्या है यह Google Pixel Buds Pro.? कैसे काम करता है ये? कितनी कीमत है Google Buds की?क्या-क्या नए Features है Google Pixel Buds Pro के?? Google pixel बड्स प्रो मल्टीपाइंट कनेक्टिविटी क्या है? कितना बेहतर हुआ बैटरी बैकअप ? आपके मन में उठ रहे इन सभी सवालों के जवाब आपको आर्टिकल के माध्यम से मिल जाएंगे। तो आइए जानते हैं गूगल पिक्सेल Pro के बारे में बना रहे अंत तक हमारे साथ।

जानकारी के अनुसार, गूगल ने बुधवार 18 मई 2022 को अपना सबसे प्रीमियम वायरलेस इयरबड्स (Wireless Earbuds) को लॉन्च कर दिया है। यह भी कहा जा रहा है कि गूगल भारतीय ट्रू वायरलेस ईयरबड्स बाजार में अपनी उपस्थिति का विस्तार नहीं कर रहा हो। सुंदर पिचाई के नेतृत्व वाली टेक दिग्गज ने हाल ही में अनावरण किया था Google पिक्सेल बड्स प्रो अपने वार्षिक डेवलपर सम्मेलन में। हालाँकि, Google के प्रमुख ईयरबड भारतीय तटों पर अपना रास्ता नहीं बना रहे हैं।

9to5Google की एक रिपोर्ट के अनुसार, Google ने उन देशों को सूचीबद्ध किया है जिनमें पिक्सेल बड्स प्रो उपलब्ध कराया जाएगा। पिक्सेल बड्स प्रो 12 देशों में उपलब्ध होगा और भारत उनमें से एक नहीं है। Google का पहला Pixel Buds भी भारत में लॉन्च नहीं हुआ। हालांकि पिक्सेल बड्स ए-सीरीज़ उपलब्ध कराया गया था और यह एकमात्र सच्चा वायरलेस ईयरबड बना हुआ है जिसे कंपनी ने भारत में लॉन्च किया है। Google ने आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं की है कि Pixel Buds Pro भारत में लॉन्च होगा या नहीं। इसके ट्रैक रिकॉर्ड के अनुसार, यह संभावना नहीं है कि Google का प्रीमियम ईयरबड भारत में लॉन्च होगा।

हालाँकि, Google ने पुष्टि की है कि किफायती फ्लैगशिप Pixel 6a निश्चित रूप से इस साल के अंत में भारत में लॉन्च होगा। हालाँकि, Google के प्रीमियम फ़ोन पिछले तीन वर्षों में भारत में लॉन्च नहीं हुए हैं।

Google pixel बड्स प्रो मल्टीपाइंट कनेक्टिविटी क्या है?

Google पिक्सेल बड्स प्रो मल्टीपॉइंट कनेक्टिविटी के साथ आता है, जिसका अर्थ है कि उपयोगकर्ता स्वचालित रूप से आपके पहले से जोड़े गए ब्लूटूथ डिवाइसों के बीच स्विच कर सकते हैं – जिनमें लैपटॉप, टैबलेट, टीवी, एंड्रॉइड और आईओएस फोन शामिल हैं। Pixel Buds Pro में एक्टिव नॉइज़ कैंसिलेशन (ANC) है, जो एक कस्टम 6-कोर ऑडियो चिप पर बनाया गया है जो Google द्वारा विकसित एल्गोरिदम को चलाता है। एक ट्रांसपेरेंसी मोड भी है जो पिक्सेल बड्स प्रो के माध्यम से परिवेशीय शोर को आने देता है।

Pixel Buds Pro, साइलेंट सील नाम की किसी चीज़ का इस्तेमाल करते हैं, जो रद्द होने वाले शोर की मात्रा को अधिकतम करने में मदद करने के लिए आपके कान के अनुकूल हो सकती है। इसमें बिल्ट-इन सेंसर हैं, जो यह सुनिश्चित करने के लिए आपके कान नहर में दबाव को मापेंगे कि आप लंबे समय तक सुनने के सत्रों के दौरान भी सहज हैं।

Google की पिक्सल बड्स प्रो की launching

गूगल ने अपने सालाना I/O इवेंट में पिक्सल बड्स प्रो को लॉन्च किया है। कंपनी ने लेटेस्ट इयरबड्स को नॉइज कैंसेलिंग और वाल्यूम EQ जैसे कई जबरदस्त फीचर्स के साथ पेश किया है।‌ पिक्सल बड्स प्रो का फुल रिलीज 28 जुलाई को होगा।

गूगल ने बुधवार को अपना सबसे प्रीमियम वायरलेस इयरबड्स (Wireless Earbuds) को लॉन्च कर दिया है। कंपनी ने अपने सालाना Google I/O इवेंट में पिक्सल बड्स प्रो को पेश किया है। गूगल के इयरबड्स ने नॉइज कैंसेलिंग और ऑडियो स्विचिंग तकनीक जैसे फीचर्स के साथ दस्तक दी है। कंपनी ने पिक्सल बड्स प्रो (Pixel Buds Pro) को $199 (लगभग 15,400 रुपए) में पेश किया है। गूगल के लेटेस्ट इयरबड्स एप्पल के एयरपॉड्स प्रो (AirPods Pro) को कड़ी टक्कर देंगे। कंपनी ने पिक्सल बड्स प्रो का प्री-ऑर्डर शुरू करने का फैसला किया है। यूजर्स इन्हें 21 जुलाई से गूगल के ऑनलाइन स्टोर से बुक कर सकते हैं। वहीं, इसका फुल रिलीज 28 जुलाई से शुरू हो जाएगा।

मिलेगा Nice कैंसलिंग फीचर

यूजर्स को लेटेस्ट इयरबड्स में साइलेंट सील इयर टिप्स मिलेंगे। इन्हें नॉइज कैंसलिंग को बेहतर करने और नॉइज लीक को रोकने के लिए डिज़ाइन किया गया है। गूगल ने इसमें अपना वाल्यूम EQ फीचर भी दिया है। जब यूजर्स इयरबड्स की वाल्यूम एडजस्ट करेंगे तो यह फीचर ऑडियो के बास, मिड्स और हाई को ऑटोमेटिकली एडजस्ट कर देगा। जब इयरबड्स की ऑडियो कम होगी, तो बास बढ़ जाएगा।

बेहतर हुआ बैटरी बैकअप

कंपनी ने इयरबड्स के बैटरी बैकअप को भी बेहतर किया है। गूगल का दावा है कि पिक्सल बड्स प्रो का लिसनिंग टाइम 11 घंटे का है। वहीं, एक्टिव नॉइज कैंसलिंग (ANC) इनेबल करने पर इसका लिसनिंग टाइम 7 घंटे का है। इयरबड्स का वायरलेस चार्जिंग केस 20 घंटे तक की चार्जिंग स्टोर कर सकता है। पांच मिनट तक चार्ज करने पर ये ईयरबड्स ANC पर 1 घंटे तक चल सकते हैं।

दो डिवाइस हो जाएंगी कनेक्ट

गूगल ने पिक्सल बड्स प्रो में एक और जबरदस्त फीचर दिया है। कंपनी ने लेटेस्ट इयरबड्स में ‘इंटेलिजेंट ऑडियो स्विचिंग’ को जोड़ा है। यह एक ब्लूटूथ मल्टीप्वाइंट टेक्नोलॉजी है, जो एक समय पर पिक्सल बड्स प्रो को दो अलग-अलग डिवास से कनेक्ट करेगी। इस तरह यूजर्स लैपटॉप पर म्यूजिक सुनते हुए इयरबड्स का कनेक्शन स्विच किए बिना अपने फोन से कॉल पिक कर सकते हैं।

आखिर क्या है Google Pixel Buds Pro ?

Google Pixel Buds Pro उन प्रोडक्ट में से एक है जिनका लॉन्च Google I/O 2022 डेवलपर्स सम्मेलन में किया गया है। यह Apple AirPods Pro और Samsung Galaxy Buds Pro को टक्कर देने आने वाला ऑडियो प्रोडक्ट है.

Google Pixel Buds Pro उन प्रोडक्ट में से एक है जिनका लॉन्च Google I/O 2022 डेवलपर्स सम्मेलन में किया गया है। जैसा कि नाम से पता चलता है, यह Apple AirPods Pro और Samsung Galaxy Buds Pro को टक्कर देने आने वाला एक प्रीमियम ऑडियो प्रोडक्ट है। इसका एक प्रमुख आकर्षण यह है कि यह एक्टिव नॉइज़ कैंसलेशन (एएनसी) के साथ आने वाला Google का पहला ईयरबड है। आइए जानते हैं गूगल पिक्सल बड्स प्रो के सारे अनोखे फीचर-

Google Pixel Buds Pro के स्पेसिफिकेशन और फीचर्स

Pixel Buds Pro, Pixel Buds की तरह दिखता है, जिसकी शुरुआत 2020 में हुई थी। अंदर की तरफ, इसमें एक कस्टम-मेड सिक्स-कोर ऑडियो प्रोसेसर है जो कस्टम ड्राइवरों के माध्यम से ध्वनि उत्पन्न करने के लिए Google एल्गोरिदम के साथ काम करता है।

Google Pixel Buds Pro की कीमत और उपलब्धताPixel Buds Pro 21 जुलाई को अमेरिका में Pixel 6a के साथ प्री-ऑर्डर के लिए उपलब्ध होगा। यह 28 जुलाई से स्टोर्स में उपलब्ध होगा। Pixel Buds Pro की कीमत 199 डॉलर यानी की लगभग 15,437 रुपये है। ईयरबड्स चारकोल, कोरल, लेमनग्रास और फॉग जैसे रंग विकल्पों के साथ उपलब्ध होगा।

5 मिनट चार्ज करने पर एक घंटा चलेगा

Google ने Pixel Buds Pro ईयरबड्स को चार्जिंग केस के साथ जोड़ा है, जिसमें वायर्ड चार्जिंग के साथ-साथ Qi वायरलेस चार्जिंग के लिए USB टाइप-C है।इसमें मल्टीपॉइंट कनेक्टिविटी के लिए सपोर्ट भी शामिल है ताकि यूजर्स उन्हें “संगत फोन, टैबलेट, लैपटॉप और टीवी” से एक साथ कनेक्ट कर सकें और चलते-फिरते ऑडियो स्ट्रीम के बीच स्विच कर सकें। ईयरबड खो जाने की स्थिति में यूजर्स फाइंड माई डिवाइस का उपयोग करके अपने पिक्सेल बड्स प्रो को भी ढूंढ पाएंगे। कनेक्टिविटी के लिहाज से Pixel Buds Pro में ब्लूटूथ v5.0. ईयरबड्स को किसी भी ब्लूटूथ v4.0+ डिवाइस के साथ जोड़ा जा सकता है, जिसमें एंड्रॉयड और iOS डिवाइस के साथ-साथ टैबलेट और लैपटॉप भी शामिल हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.