NZ vs BAN: रॉस टेलर ने रचा इतिहास, टेस्ट करियर के आखिरी गेंद पर लिया विकेट, 112 मैच और 16 ओवर गेंदबाजी और 03 विकेट

रॉस टेलर ने रचा इतिहास 2022

NZ vs BAN: विकेटकीपर लिटन दास की साहसिक शतकीय पारी के बावजूद बांग्लादेश को न्यूजीलैंड के हाथों दूसरे क्रिकेट टेस्ट में एक पारी और 117 रन से पराजय का सामना करना पड़ा वही न्यूजीलैंड को 117 रन से शानदार जीत मिली। न्यूजीलैंड ने बांग्लादेश के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज में एक पारी और अनुभवी रॉस टेलर के करियर का आखिरी टेस्ट मैच भी था, जिन्होंने घोषणा की थी कि वह सीरीज के बाद संन्यास ले लेंगे। वह अभी भी अपने आखिरी कुछ मैच ODI और T20 में खेलेंगे।

न्यूजीलैंड ने पहली पारी छह विकेट पर 521 रन पर घोषित की थी जिसमें टॉम लाथम ने 252 रन बनाये थे। उन्होंने मैच में छह कैच भी लपके। न्यूजीलैंड ने बांग्लादेश को पहली पारी में 126 रन पर आउट करके फॉलोआन दिया। बांग्लादेश की टीम दूसरी पारी में 278 रन पर आउट हो गई। दास 102 रन बनाकर आउट हुए जबकि दूसरे छोर से कोई बल्लेबाज ज्यादा टिक नहीं सका। बांग्लादेश का नौवां विकेट गिरते ही दर्शकों ने अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर का नाम लेना शुरू कर दिया जो अपना 112वां और आखिरी टेस्ट खेल रहे थे।

दर्शकों की बात को मानकर कप्तान लाथम ने टेलर को गेंद सौंपी। उनकी तीसरी गेंद पर इबादत हुसैन ने लाथम को कैच थमा दिया। इसके साथ ही टेलर के 15 वर्ष के सुनहरे करियर का अंत विकेट के साथ हुआ।

टेलर के लिए यह एक यादगार अंत था, क्योंकि उन्होंने अपने करियर की आखिरी गेंद पर एक विकेट लिया था। टेलर अपने 112 टेस्ट लंबे करियर में केवल आठवीं बार गेंदबाजी कर रहे थे और उन्होंने ओवर की तीसरी गेंद पर ही चौका लगा दिया। आस्ट्रेलिया में वनडे सीरीज और मार्च अप्रैल में नीदरलैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज खेलेंगे। नीदरलैंड के खिलाफ अपने गृहनगर हैमिल्टन में चार अप्रैल को होने वाला चौथा वनडे टेलर का आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच होगा।

न्यूजीलैंड के अनुभवी बल्लेबाज रोस टेलर 15 साल के टेस्ट करियर की अंतिम गेंद पर विकेट लिया और बांग्लादेश के खिलाफ श्रृंखला बराबर कराने वाली जीत की बेहतर उम्मीद नहीं कर सकते थे ।

करियर का अंत जीत और विकेट के साथ करना शानदार

टेलर ने अपने टेस्ट करियर का अंत इबादत हुसैन को आउट करके किया l इससे न्यूजीलैंड ने मंगलवार को यहां बांग्लादेश को पारी और 117 रन से हराकर दो मैच की श्रृंखला 1-1 से बराबर दी। टेलर ने मैच ख़त्म होने के बाद आधिकारिक प्रसारणकर्ता से कहा, ‘‘करियर का अंत जीत और विकेट के साथ करना शानदार है, मैं जीत के साथ करियर खत्म करना चाहता था और खिलाड़ियों ने ऐसा किया। बांग्लादेश ने कई बार हमें काफी दबाव में डाला, यह उचित है कि हम इस श्रृंखला को साझा करेंगे।’’

बांग्लादेश का नौवां विकेट गिरते ही हेगले ओवल में मौजूद दर्शकों ने टेलर का नाम लेना शुरू कर दिया और दर्शकों की बात को मानकर कप्तान टॉम लैथम ने उन्हें गेंद सौंपी । सैंतीस साल के टेलर की तीसरी ही गेंद पर इबादत ने न्यूजीलैंड के कप्तान को कैच थमा दिया जिससे 112 टेस्ट में इस अनुभवी खिलाड़ी ने अपना सिर्फ तीसरा टेस्ट विकेट हासिल किया। टेलर ने इससे पहले 2010 में न्यूजीलैंड के भारत दौरे के दौरान हरभजन सिंह और एस श्रीसंत के रूप में दो विकेट हासिल किए थे। टेलर ने अपने पूरे टेस्ट करियर में सिर्फ 16 ओवर गेंदबाजी की।

उन्होंने पिछली बार आठ साल पहले गेंद थामी थी। टेलर ने कहा, ‘‘श्रृंखला शानदार रही- मैं सोच रहा था कि क्या कल हमें दोबारा मैदान पर उतरना होगा लेकिन खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया। अंत में यह थोड़ा रोचक हो गया, मैंने विकेट हासिल और टॉम ने कहा कि पूरे मैच में यह मेरे लिए सबसे अनमोल चीज रही। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने अपने देश का प्रतिनिधित्व करने का बेहद लुत्फ उठाया, यहां (क्राइस्टचर्च) में मैं काफी खेला, काफी समय बिताया और यह अंत करने का शानदार तरीका है।’’ न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान टेलर का दर्शकों ने खड़े होकर अभिवादन किया। उन्हें मैच की गेंद सौंपी गई और बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने उन्हें गार्ड आफ आनर दिया। टेलर एक ही मैच में 250 से अधिक की पारी खेलने और छह कैच लेने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बन गए।

टेलर ने न्यूजीलैंड के लिये टेस्ट और वनडे में मिलकर सर्वाधिक रन बनाये हैं। उन्होंने टेस्ट में 19 शतक समेत 7684 रन बनाये जो मौजूदा कप्तान केन विलियमसन के बाद सर्वाधिक हैं। वहीं वनडे में उन्होंने 8581 रन बनाये जिसमें 21 शतक शामिल हैं।

उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2008 में पहला टेस्ट खेला और 233 वनडे में से पहला वेस्टइंडीज के खिलाफ 2006 में खेला था । उन्होंने 102 टी20 मैच भी खेले हैं और न्यूजीलैंड के लिये तीनों प्रारूपों में सौ से अधिक मैच खेलने वाले पहले क्रिकेटर हैं। न्यूजीलैंड ने जून में विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल में भारत को हराया था ।

Leave a Reply