बच्चों का टीकाकरण :- 12 से 14 वर्ष के बच्चों के वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो चुके हैं, जानिए संपूर्ण जानकारी

देश भर में 12 वर्ष से लेकर 14 वर्ष तक के बच्चों की वैक्सीनशन प्रक्रिया शुरू हो गई है। आज से 2008-10 के बीच जन्मे बच्चे को वैक्सीन लगनी शुरू हो चुकी है। इन बच्चों को Corbevax वैक्सीन लगाई जा रही है। हैदराबाद की बायोलॉजिकल ई की यह वैक्सीन है, जिसका ट्रायल बच्चों पर ही हुआ है। तीन चरणों के ट्रायल में कोर्बीवैक्स का टेस्ट बीटा और डेल्टा वेरिएंट पर भी किया गया और परिणाम अच्छे मिले हैं।

अगर रजिस्ट्रेशन की बात करें तो cowin वेबसाइट, कोविन पोर्टल www.cowin.gov.in और आरोग्य सेतु मोबाइल एप्प पर इसको रजिस्टर करके स्लॉट लिया जा सकता है और साथ ही on site रजिस्ट्रेशन की सुविधा भी बच्चों को मिलेगी। देश में इस आयु वर्ग के 4,74,73,000 बच्चों को टीकाकरण कार्यक्रम में शामिल किया गया है।

Child vaccination

12 से 14 साल की उम्र के बच्चों के वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन की कोई नई प्रक्रिया नहीं है। इसके लिए वही कोविन पोर्टल cowin gov.in पर रजिस्ट्रेशन करना होगा।इसके लिए मोबाइल नंबर की जरूरत होगी।

Vaccination Registration

केंद्र सरकार ने देश में 12 से 14 साल की उम्र के बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाने की इजाजत दे दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया के मुताबिक, 16 मार्च से 12 से 13 व 13 से 14 आयुवर्ग के बच्चों का कोविड टीकाकरण (Covid Vaccination) शुरू हो रहा है। इसका मतलब यह है कि 2008, 2009 और 2010 में जन्म लेने वाले बच्चे वैक्सीन के लिए पात्र होंगे।

जबकि 60 से ऊपर के लोगों के लिए प्रिकॉशन डोज भी शुरू किया जाएगा। उन्‍होंने बच्‍चों के परिजनों और 60+ के लोगों से कोविड की खुराक लेने का आग्रह किया है। 12-14 वर्ष की आयु के बच्चों को Corvbevax से लगाया जाएगा, जो 28 दिनों के अंतराल में दो डोज लगाया जाएगा। इसी तरह CoWIN पोर्टल पर 15 से 18 के बीच के बच्चों का पंजीकरण 1 जनवरी से शुरू हुआ था और टीकाकरण 3 जनवरी को शुरू किया गया था।

12 साल के बच्चों को कौन सी वैक्सीन लगेगी?

सरकार के मुताबिक, 12 से 14 साल के बच्चों को 16 मार्च 2022 से कोरोना वैक्सीन लगेगी, इस आयु वर्ग के बच्चों को हैदराबाद की बायोलॉजिकल ई की वैक्सीन कोर्बीवैक्स (Corbevax) लगाई जाएगी।

How to Register On Cowin Portal

  • सबसे पहले अपने कंप्यूटर या मोबाइल पर www.cowin.gov.in ओपन करें।
  • अब ‘Register/Sign In’ बटन पर क्लिक करें।
  • अब अपना मोबाइल नंबर और OTP डालकर लॉगिन करें।
  • अब बच्चे का रजिस्ट्रेशन करें।
  • यदि आप उसी फोन नंबर का उपयोग कर रहे हैं जिसका उपयोग आपने स्वयं वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन करने के लिए किया है, तो ऊपर राइट कॉर्नर में Add Member बटन पर क्लिक करें।
  • यदि आप एक नए फोन नंबर इस्तेमाल कर रहे हैं तो Add Member बटन पर क्लिक करें।
  • अब, फोटो आईडी प्रूफ, फोटो आईडी नंबर, नाम, लिंग और जन्म का साल जैसी डिटेल्स दर्ज करें और रजिस्टर बटन दबाएं।
  • इसके बाद, उपलब्धता के अनुसार तारीख, टाइम स्लॉट और वैक्सीनेशन सेंटर सिलेक्ट करें और ‘कन्फर्म’ पर क्लिक करें।

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, नए आयु वर्ग के तहत लगभग 7.11 करोड़ बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा। बायोलॉजिकल ई ने केंद्र को कॉर्बेवैक्स की 5 करोड़ खुराक की आपूर्ति की है, जो अभी सरकारी केंद्रों पर ही उपलब्‍ध होगी। यह जानकारी स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की ओर से दी गई है।

किन दस्‍तावेजों की होगी जरूरत

कोविन पोर्टल पर रजिस्‍ट्रेशन के लिए आपको पहचान पत्र फोटो के साथ, पहचान पत्र नंबर, नाम, जन्‍मतिथि और लिंग आदि भरने की आवश्‍यकता होती है। अगर 12 से ऊपर के बच्‍चों का आधार कार्ड नहीं है तो भी वे अपने स्‍कूल की फोटो आईडी या फिर कोई और फोटो आईडी का उपयोग कर रजिस्‍ट्रेशन करा सकते हैं।

कितनी दी जाएगी खुराक और 28 दिन बाद लगेगी दूसरी डोज?

इस फेज में 12 से 14 वर्ष के बच्चों को भी निडिल वाली इंजेक्शन 0.5 एमएल वैक्सीन लगाई जाएगी। कोर्बीवैक्स नई वैक्सीन है, जिसे इमरजेंसी इस्‍तेमाल के लिए अनुमति दी गई है। गाइडलाइन के मुताबिक बड़ों की तरह Corbevax की डोज भी 28 दिनों के अंतराल पर लगाई जाएगी।

15 मार्च का दिन ऐतिहासिक: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 15 मार्च का दिन ऐतिहासिक है, क्‍योंकि अब 12-14 आयु वर्ग के युवा टीके के लिए पात्र हैं और 60 से ऊपर के सभी लोग एहतियाती खुराक के लिए पात्र हैं। मैं इन आयु वर्ग के लोगों से टीकाकरण कराने का आग्रह करता हूं। उन्‍होंने कहा कि भारत दुनियां में वैक्‍सीन लगाने में सबसे आगे है, 2020 से ही टीकाकरण की शुरूआत कर दी गई थी। जनवरी 2021 में, हमने डॉक्टरों, हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए अपना टीकाकरण अभियान शुरू किया।

उन्‍होंने कहा कि मार्च 2021 में, 60 से ऊपर और 45 से अधिक लोगों के लिए टीकाकरण खोला गया था। बाद में 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों के लिए टीकाकरण खोला गया। उन्‍होंने कहा कि सभी के लिए टीकाकरण मुफ्त है। आज, भारत ने 180 करोड़ से अधिक खुराकें दी हैं, जिसमें 15-17 आयु वर्ग में 9 करोड़ से अधिक खुराक और 2 करोड़ से अधिक एहतियाती खुराक शामिल हैं। यह हमारे नागरिकों के लिए COVID-19 के खिलाफ एक महत्वपूर्ण सुरक्षा कवच है।

Leave a Reply